अनुवाद

बुधवार, 6 मार्च 2013

भारत के महारजिस्ट्रार एवं जनगणना आयुक्त का कार्यालय द्वारा राजभाषा अधिनियम का उल्लंघन के सम्बन्ध में लोक शिकायत




---------- अग्रेषित संदेश ----------
प्रेषक: प्रवीण जैन <cs.praveenjain@gmail.com>
दिनांक: 29 दिसम्बर 2012 4:26 pm
विषय: भारत के महारजिस्ट्रार एवं जनगणना आयुक्त का कार्यालय द्वारा राजभाषा अधिनियम का उल्लंघन _लोक शिकायत
प्रति: Ankur Gupta <ankurgupta555@gmail.com>



प्रति
राजभाषा विभागगृह मंत्रालय
एनडीसीसी-II (नई दिल्ली सिटी सैंटर) भवन, 'बी' विंग
चौथा तलजय सिंह रोड़
नई दिल्ली - 110001

विषय: भारत के महारजिस्ट्रार एवं जनगणना आयुक्त का कार्यालय द्वारा राजभाषा अधिनियम का उल्लंघन के सम्बन्ध में लोक शिकायत:

महोदय,

भारत के महारजिस्ट्रार एवं जनगणना आयुक्त का कार्यालय द्वारा  भारत की राजभाषा की घोर उपेक्षा की जा रही है तथा राजभाषा सम्बन्धी संवैधानिक प्रावधानों का उल्लंघन हो रहा है. 

शिकायत के मूल बिंदु:

१. सभी कार्यक्रमों के बैनर हिंदी में ना छापकर केवल अंग्रेजी में छापे जा रहे हैं. १७ और २८ दिसंबर २०१२ को दिल्ली में आयोजित कार्यक्रमों के चित्र संलग्न हैं.
२. लेखन सामग्री पत्र-शीर्ष में अंग्रेजी को प्राथमिकता एवं लिफाफे केवल अंग्रेजी में छापे गए हैं. 
३. आधिकारिक वेबसाइट भी हिंदी में उपलब्ध नहीं है. अंग्रेजी वेबसाइट पर सभी प्रेस विज्ञप्तियां एवं आंकड़ेपीडीएफ फाइलें केवल अंग्रेजी में ही उपलब्ध हैं।

इन सब बातों को देखते हुए सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है कि हिंदी की इस कार्यालय में क्या स्थिति होगी?

तस्वीरों के विवरण: 

१.   भारत के महापंजीयक और जनगणना आयुक्त-सेंससइन्फो सॉफ्टवेयर के शुभारंभ के अवसर पर यूनिसेफ के प्रतिनिधि के साथ नई दिल्ली में 17 दिसंबर, 2012
२. 28 दिसंबर, 2012 को नई दिल्ली में राष्ट्रीय आंकड़ा प्रसार कार्यशाला के उद्घाटन के अवसर पर गृह राज्य मंत्री श्री आर.पी.एन. सिंह द्वारा “ मकानघरेलू सुविधाएं और संपत्ति” पर सारणी क्त सीडी का विमोचन. चित्र में भारत के महापंजीयक और जनगणना आयुक्त डॉ. सी. चंद्रमौली भी दिखाई दे रहे हैं 

कृपया उचित कार्यवाही करें. और स्पष्ट निर्देश जारी करें.

भवदीय 
नाम:
पूरा पता :



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

आपसे विनम्र प्रार्थना है इस पोस्ट को पढ़ने के बाद इस विषय पर अपने विचार लिखिए, धन्यवाद !